अपनी खुदकुशी की फेक न्यूज पर अध्ययन का रिएक्शन: अध्ययन सुमन बोले- खबर सुनने के बाद मेरी मां होश खो बैठी थीं, उन्हें कुछ हो जाता तो?

11

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

4 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

एक्टर शेखर सुमन के बेटे अध्ययन ने अब खुद अपनी खुदकुशी करने की फेक न्यूज पर रिएक्शन दिया है। एक न्यूज चैनल ने 2 दिन पहले अध्ययन की खुदकुशी करने की फेक न्यूज चला दी थी। यह खबर तेजी से वायरल हो गई थी। इस फेक न्यूज से शेखर और उनका परिवार काफी डिस्टर्ब हो गया है। शेखर ने रविवार को सोशल मीडिया पर कई पोस्ट शेयर कर बताया था कि यह खबर फेक है और चैनल के खिलाफ लीगल एक्शन लेने की बात भी कही थी।

मैं जिंदा हूं और बिल्कुल ठीक हूं
एक न्यूज वेबसाइट को दिए इंटरव्यू में अध्ययन ने कहा, “मैं जिंदा हूं और बिल्कुल ठीक हूं।” उन्होंने यह भी बताया कि जब यह खबर सामने आई, तब क्या हुआ था। अध्ययन ने कहा, “मैं शॉक्ड था। दुर्भाग्य से मैं उस दिन दिल्ली में था और काम में बिजी था। उस समय मैं अपने मम्मी-पापा का फोन भी नहीं उठा पाया था। जाहिर सी बात है, ये सुनने के बाद मेरी मां होश खो बैठी थीं। इसलिए वे बार-बार फोन कर रहे थे।”

खबर पता चलने के बाद घर पर फोन किया था
अध्ययन ने कहा, “मेरे मैनेजर ने मुझे फोन कर पूछा कि आपको पता है, सोशल मीडिया पर क्या चल रहा है? तो मैंने कहा कि मुझे नहीं पता। फिर उसने बताया कि हर कोई आपको टैग कर रहा है, क्योंकि एक न्यूज चैनल ने खबर चलाई है कि आपने खुदकुशी कर ली है। इसके बाद मैंने अपने पापा को फोन किया। हर किसी ने मुझे फोन और मेसेज करने शुरू कर दिए थे। क्योंकि उन लोगों के लिए इस बात पर यकीन करना मुश्किल था। सभी को लग रहा था कि ऐसा अचानक क्या हो गया भाई?”

अगर मेरी मां को कुछ हो गया होता तो?
अध्ययन ने आगे कहा, “मैंने ऐसा कुछ कभी नहीं सुना था, मीडिया बहुत नीचे गिर गया है। यह बहुत गंभीर मामला है। अगर मेरी मां को कुछ हो गया होता तो? शॉक से कुछ भी हो सकता था। खासकर उन मां-बाप को जो पहले ही अपना एक बेटा खो चुके हैं।” अध्ययन ने सोशल मीडिया पर भी एक वीडियो शेयर कर फैंस को बताया कि वे बिल्कुल ठीक हैं।

चैनल के खिलाफ लीगल एक्शन ले रहा हूं
इससे पहले अध्ययन के पिता शेखर ने सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर कर लिखा था, “इस तरह के निंदनीय कृत्य के लिए मैं चैनल के खिलाफ लीगल एक्शन ले रहा हूं। मीडिया को अधिक जिम्मेदार होना चाहिए, ना की अपने स्वार्थ के लिए लोगों का जीवन तबाह करें। मैं सभी लोगों से प्रार्थना करता हूं कि सोशल मीडिया पर पोस्ट शेयर कर चैनल को बैन करने की मांग करें।”

अभी भी सदमे से बाहर नहीं आए हैं
शेखर ने कहा था, “हम डर गए हैं और अभी भी सदमे से बाहर नहीं आए हैं। मैं सभी लोगों से अनुरोध करता हूं कि चैनल के इस तरह के अनुचित व्यवहार के खिलाफ सोशल मीडिया पर पोस्ट करें और चैनल को बैन करने की मांग करें। ताकि आगे से किसी और व्यक्ति के साथ ऐसा ना हो। मैं चैनल के खिलाफ उपयुक्त लीगल एक्शन ले रहा हूं।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here